खबरें राजनीतिक

Rajasthan Election Result 2019 : राजस्‍थान को भाया केंद्र में नरेंद्र मोदी का ‘राज’, कांग्रेस की हार के 4 कारण..

न्यूज़ शेयर करना न भूले |
  •  
  •  
  •  

Election Result 2019: करीब पांच माह में ही स्थिति बदल चुकी हैं. राजस्‍थान की 25 लोकसभा सीटों में चमकदार प्रदर्शन के बाद बीजेपी (BJP) इतरा रही है जबकि कांग्रेस पार्टी सकते की सी हालत में है.
(Rajasthan Election Result 2019) कांग्रेस पार्टी के लिए निराशाजनक रहे हैं. बीजेपी (BJP) राज्‍य में अपने वर्ष 2014 के प्रदर्शन को लगभग दोहराती नजर आ रही है, दूसरी ओर अभी तक के रुझान के हिसाब से कांग्रेस पार्टी (Congress) दो-तीन सीटों पर सिमटती नजर आ रही है. राज्‍य के लोगों की ओर ये दिया गया यह जनादेश वाकई हैरानी भरा है. पिछले साल दिसंबर में ही राज्‍य में हुए विधानसभा चुनाव में इस ‘मरु’ प्रदेश के लोगों ने कांग्रेस के प्रति बढ़-चढ़कर समर्थन जताया था. कांग्रेस पार्टी यहां बहुमत के अंक तक पहुंच गई थी और अशोक गहलोत (Ashok Gehlot)के मुख्‍यमंत्री बनने का रास्‍ता साफ हुआ था. राजस्‍थान में कांग्रेस की इस जीत के साथ ही वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje)के नेतृत्‍व वाली बीजेपी सरकार को मुंह की खानी पड़ी थी. बहरहाल करीब पांच माह में ही स्थिति बदल चुकी हैं. राज्‍य की 25 लोकसभा सीटों में अपने चमकदार प्रदर्शन के बाद बीजेपी (BJP) इतरा रही है जबकि कांग्रेस पार्टी सकते की सी हालत में है. राज्‍य में कांग्रेस की हार के लिए ये चार कारण जिम्‍मेदार रहे..

1. मोदीजी से बैर नहीं..
राजस्‍थान में दिसंबर 2019 के चुनाव के दौरान एक नारा बेहद लोकप्रिय हुआ था-मोदीजी से बैर नहीं, वसुंधरा की खैर नहीं. इस नारे में ही बीजेपी के लोकसभा चुनाव के प्रदर्शन का सार छुपा हुआ है. राज्‍य के लोगों की नाराजगी केंद्र में काबिज नरेंद्र मोदी सरकार (Narendra Modi Government)के प्रति नहीं बल्कि राज्‍य की वसुंधरा राजे सिंधिया सरकार को लेकर थी. लोगों का मानना था कि वसुंधरा (Vasundhara Raje) अपने को कुछ खास लोगों तक ही सीमित किए हैं और इस कारण आमजनों की बात उन तक नहीं पहुंच पाती. ऐसे में उन्‍होंने वसुंधरा को तो बाहर का रास्‍ता दिखा दिया लेकिन जब लोकसभा चुनाव की बारी आई तो पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और बीजेपी के प्रति खुलकर समर्थन में आए. पाकिस्‍तान की सीमा से लगे होने और वीर जवानों की भूमि कहे जाने वाले राजस्‍थान के वोटरों को बालाकोट एयरस्‍ट्राइक (BalaKot Air Strike)ने भी काफी लुभाया. मोदी सरकार की ओर से चलाई गईं उज्‍जवला, जनधन, स्‍वच्‍छ भारत और प्रधानमंत्री आवास योजना को भी लोगों ने पसंद किया.